Home दुनिया ट्रंप से पाक की नालिश करने को लेकर मोदी पर क्यों भड़के ओवैसी ?

ट्रंप से पाक की नालिश करने को लेकर मोदी पर क्यों भड़के ओवैसी ?

13 second read
Comments Off on ट्रंप से पाक की नालिश करने को लेकर मोदी पर क्यों भड़के ओवैसी ?
0
97

जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान लगातार भारत के खिलाफ आग उगलकर रहा है। वो बार-बार भारत को जंग की धमकी दे रहा है। पाक की भड़काऊ बयानों के चलते दोनों देशों के बीच सीमा पर जबर्दस्त तनाव है। इस तनाव को लेकर पीएम मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को आगाह किया। लेकिन पीएम मोदी का ऐसा करना असदुद्दीन ओवैसी को रास नहीं आया है।

दरअसल अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप से फोन पर बातचीत को लेकर AIMIM प्रमुख और लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने पीएम मोदी पर हमला बोला है। ओवैसी ने कहा कि अगर कश्मीर हमारा द्विपक्षीय मुद्दा है, तो फिर पीएम को अमेरिकी राष्ट्रपति से बात करने की क्या जरूरत थी। ओवैसी ने सवालिया लहजे में पूछा कि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप दुनिया के चौधरी हैं या पुलिसवाले? ओवैसी ने कहा, मैं काफी हैरान हूं कि जिस मुद्दे को पीएम द्विपक्षीय बताते हैं, उसी मुद्दे पर ट्रंप से बात करते हैं। आखिर इस मामले में तीसरे को लाने की क्या जरूरत पड़ गई। इसका मतलब ट्रंप का दावा सही है, जब वो कह रहे हैं कि मोदी ने कश्मीर पर हमें मध्यस्थता करने के लिए कहा है।

ओवैसी ने आगे कहा कि ‘रेडियो पर आप कुछ और बात करते हैं। संसद में कुछ और बात करते हैं और बाद में आप ट्रंप से बात करने लगते हैं। मुझे बिल्कुल नहीं समझ आ रहा कि इस मामले में ट्रंप से बात करने की क्या जरूरत थी। हमने सर्जिकल स्ट्राइक किया, बालाकोट किया, क्या हमने उस समय भी ट्रंप से पूछा? तो फिर इस बारे में अमेरिकी राष्ट्रपति से शिकायत की क्या जरूरत थी। हम खुद में एक शक्ति संपन्न देश हैं, मुझे नहीं लगता कि हमें किसी और की जरूरत है।

इतना ही नहीं जम्मू-कश्मीर को लेकर हिंदू-मुसलमान’ वाले ट्रंप के बयान पर भी ओवैसी ने अपनी नाराजगी जताई है। अपने एक ट्वीट में उन्होंने मोदी सरकार से सवाल पूछते हुए लिखा है-

क्या भारत में हिंदू-मुसलमान समस्या है? अगर नहीं तो डोनाल्ड ट्रंप के बयान पर सरकार चुप क्यों है? स्पष्ट नहीं करके क्या हम स्वीकार कर रहे हैं कि हमें दोनों समुदायों से कोई समस्या है?

आपको बता दें कि 19 अगस्त को पीएम मोदी ने डोनाल्ड ट्रंप से फोन पर बात कर उनको पाकिस्तान की तरफ से दिए जा रहे भारत-विरोधी बयानों से अवगत कराया था। इसके एक दिन बाद ट्रंप ने कश्मीर को धर्म से जोड़ दिया, जिससे भारत में सियासी भूचाल आ गया है।

Check Also

क्या महाराष्ट्र में बिना BJP के सरकार बनाना शिवसेना का आखिरी सुसाइड है ?

क्या महाराष्ट्र में बिना BJP के सरकार बनाना शिवसेना का आखिरी सुसाइड है ? तो क्या मुख्यमंत्…