Home ताज़ा सिद्धू के BJP में जाने की अटकलों से कांग्रेस में हड़कंप ?

सिद्धू के BJP में जाने की अटकलों से कांग्रेस में हड़कंप ?

10 second read
Comments Off on सिद्धू के BJP में जाने की अटकलों से कांग्रेस में हड़कंप ?
0
48

पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार से इस्तीफा देने के बाद से ही पूर्व क्रिकेटर और कांग्रेस विधायक ओझल से हो गए हैं। न तो उनकी ओर से कोई बयान सामने आए, और न ही पार्टी की ओर से। हाल ही में जब उनकी पत्नी ने कांग्रेस छोड़ने का ऐलान किया था, उस वक्त भी पार्टी ने चुप्पी साधे रखी, मगर अब जब सियासी गलियारों में सिद्धू के बीजेपी में जाने की अटकलें लगाई जाने लगी हैं, तो कांग्रेस को भी सिद्धू की याद आने लगी।

दऱअसल पंजाब प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने करतारपुर कॉरिडोर खुलवाने का श्रेय नवजोत सिंह सिद्धू को दिया। चंडीगढ़ स्थित कांग्रेस भवन में पूर्व पीएम इंदिरा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद मीडिया से बात करते हुए जाखड़ ने कहा कि करतापुर कॉरिडोर खुलवाले में सबसे बड़ा योगदान सिद्धू का रहा है, जिसे भुलाया नहीं जा सकता। हालांकि डेरा बाबा नानक में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से जब पत्रकारों ने सिद्धू को लेकर सवाल किया, तो उन्होंने इस पर कुछ कहने से इंकार कर दिया। वहीं खुद सिद्धू ने भी मीडिया से दूरी बनाए रखी।

आपको बता दें कि कैप्टन-सिद्धू विवाद के बाद ये पहला मौका था, जब प्रदेश कांग्रेस की ओर से सिद्धू के बारे में कोई बात कही गई। ये भी गौर करने वाली बात है कि गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व की तैयारियों के तहत, करतारपुर कॉरिडोर निर्माण के मामले में पंजाब सरकार के किसी मंत्री ने कभी सिद्धू का जिक्र नहीं किया। लेकिन जैसे ही सिद्धू के कांग्रेस छोड़ बीजेपी में जाने की खबरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई, कांग्रेस के मन में भी अचानक सिद्धू के लिए प्रेम उमड़ने लगा।

Read More: 370 हटने के बाद आज से जम्मू और कश्मीर में लागू होंगे 10 नए कानून, जिसे जानना आपके लिए बेहद जरूरी है

हालांकि कहा ये भी जा रहा है कि करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन के मौके पर केंद्र और पंजाब सरकार की ओर से डेरा बाबा नानक में अलग-अलग मंच सजाए जा रहे हैं। ऐसे में कांग्रेस सिद्धू को साथ लेना चाह रही है, ताकि करतारपुर कॉरिडोर खुलने का सारा श्रेय अपनी झोली में डाल सके। आपको बता दें कि अमरिंदर सरकार से इस्तीफा देने के बाद से सिद्धू ने सक्रिय राजनीति से दूरी बना ली है। उनकी पत्नी नवजोत कौर के कांग्रेस छोड़ने के बाद से ही ये माना रहा रहा है कि आने वाले दिनों में वो भी कांग्रेस से किनारा कर सकते हैं। लेकिन जैसे ही सिद्धू की अमित शाह से कथित मुलाकात की खबरें सामने आई, कांग्रेस को भी गुरू के याद आने लगे।

Check Also

क्या महाराष्ट्र में बिना BJP के सरकार बनाना शिवसेना का आखिरी सुसाइड है ?

क्या महाराष्ट्र में बिना BJP के सरकार बनाना शिवसेना का आखिरी सुसाइड है ? तो क्या मुख्यमंत्…