Home ताज़ा पाक के पूर्व राजनयिक अब्दुल बासित की भारत को गीदड़भभकी !

पाक के पूर्व राजनयिक अब्दुल बासित की भारत को गीदड़भभकी !

2 second read
Comments Off on पाक के पूर्व राजनयिक अब्दुल बासित की भारत को गीदड़भभकी !
0
106

जम्मू कश्मीर से धारा 370 के मुद्दे पर दुनिया भर में तमाचा लगने के बावजूद पाकिस्तान सुधरने का नाम नहीं ले रहा है। उसकी बौखलाहट लगातार बढ़ती ही जा रही है। पाक नेता लगातार गैर-जिम्मेदाराना बयान देकर इस मुद्दे को और गरमाने की कोशिश में जुटे हैं। इतना ही नहीं नियंत्रण रेखा पर बढ़ती हलचल से हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं। हालांकि पाकिस्तानी गीदड़भभकी के बीच भारतीय सेना प्रमुख ने भी दो टूक चेतावनी दे दी है।

दऱअसल भारत में पाकिस्तान के राजनयिक रहे अब्दुल बासित ने अब युद्ध की धमकी दी है। बासित ने कहा कि कश्मीर में संघर्ष के चार मोर्चे हैं। पहला, नेशनल कॉन्फ्रेंस की ओर से सुप्रीम कोर्ट में कानूनी लड़ाई। दूसरा, पाकिस्तान को आत्मनिर्णय के साथ कूटनीतिक प्रयास जारी रखने चाहिए। तीसरा, पाकिस्तानी और कश्मीरी प्रवासी इस संबंध में काम करते रहें। और चौथा, सबसे महत्वपूर्ण ये है कि कश्मीर में राजनीतिक लड़ाई को पाकिस्तान कमजोर न होने दे। यदि भारत अपनी हदें पार करे तो युद्ध की तरफ बढ़ा जाए।

हालांकि बासित के नापाक इरादे यहीं खत्म नहीं हुए। उन्होंने पाकिस्तान सरकार से जम्मू-कश्मीर के मामलों के लिए विदेश मंत्रालय में अलग सेल बनाने की मांग भी की। साथ ही कहा कि इस सेल का नेतृत्व विशेष राजनयिक करें। अब्दुल बासित ने कहा कि सही और प्रभावी कूटनीति के लिए सही संगठनात्मक संरचना बेहद जरूरी है और कश्मीर पर पाकिस्तान को अपनी पुरानी नीति में बदलाव लाना होगा। मजेदार बात तो ये है कि बासित पाकिस्तानियों से संयुक्त राष्ट्र के बाहर प्रदर्शन करने की अपील करते नजर आए।

इससे पहले एक पाकिस्तानी पत्रकार ने दावा किया था कि भारी हथियारों से लैस पाक सेना लाइन ऑफ कंट्रोल की ओर बढ़ रही है। इसके बाद खबर सामने आई कि पाकिस्तान लद्दाख के सामने अपने एयरबेस में लड़ाकू विमानों की तैनाती कर रही है। इसके बाद से ही भारतीय सेना भी अलर्ट मोड पर है। उधर एलओसी पर सैन्य साजो-सामान जुटाने और पाक सेना की सीमा की ओर कूच करने की खबरों के बीच इंडियन आर्मी चीफ बिपिन रावन ने भी पाकिस्तान को दो टूक चेतावनी दी है। जनरल रावत ने कहा कि हम अलर्ट हैं, अगर वो एलओसी पर आना चाहते हैं, तो ये उन पर निर्भर करता है, उनको करारा जवाब मिलेगा। यानी साफ है कि धारा 370 के मुद्दे पर जिस तरह पाकिस्तान को कूटनीतिक हार का सामना करना पड़ा है, उसी तरह सीमा पर उसकी हर नापाक हरकत का मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा।

Check Also

क्या महाराष्ट्र में बिना BJP के सरकार बनाना शिवसेना का आखिरी सुसाइड है ?

क्या महाराष्ट्र में बिना BJP के सरकार बनाना शिवसेना का आखिरी सुसाइड है ? तो क्या मुख्यमंत्…