Home ताज़ा आखिर तिहाड़ जेल में कैसी कटी पी चिदंबरम की पहली रात ?

आखिर तिहाड़ जेल में कैसी कटी पी चिदंबरम की पहली रात ?

10 second read
Comments Off on आखिर तिहाड़ जेल में कैसी कटी पी चिदंबरम की पहली रात ?
0
100

INX मीडिया मामले में पूर्व वित्त मंत्री और सीनियर कांग्रेस नेता पी चिदंबरम को आखिरकार तिहाड़ जेल जाना ही पड़ा। दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने 5 सितंबर को सुनवाई के बाद चिदंबरम  को 19 सितंबर तक यानी 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया। कोर्ट के आदेश के बाद वो अब अगले 14 दिन तक तिहाड़ जेल में ही रहेंगे। ऐसे में सबसे बड़ा सवाल तो यही है कि

आखिर तिहाड़ जेल में कैसी कटी पी चिदंबरम की पहली रात ?

तिहाड़ जेल गए पी चिदंबरम को कौन सी टेंशन सता रही है ?

दरअसल कोर्ट में सुनवाई के बाद चिदंबरम की तिहाड़ जेल में गेट नंबर चार से एंट्री हुई। जेल में बंद करने से पहले चिदंबरम का मेडिकल टेस्ट किया गया और फिर डिनर में रोटी, दाल और चावल दिया गया। इससे पहले सुनवाई के दौरान राउज एवेन्य कोर्ट से चिदंबरम के वकील ने अपील की कि उन्हें तिहाड़ जेल में वेस्टर्न टॉयलेट, चश्मा, दवाएं, सुरक्षा और अलग बैरक समेत अन्य सुविधाएं मुहैया कराने की मंजूरी दी जाए। जिसे कोर्ट ने मंजूर कर लिया। अब चूंकि चिदंबरम 14 दिनों तक जेल में रहेंगे, ऐसे में उन्हें अपना 74वां जन्मदिन भी तिहाड़ में ही मनाना होगा। उनका जन्मदिन पीएम मोदी के जन्मदिन से एक दिन पहले पड़ता है। पीएम मोदी का जन्मदिन 17 सितंबर को पड़ता है, जबकि चिदंबरम का जन्मदिन 16 सितंबर को।

इससे पहले कोर्ट ने जब अपना आदेश सुरक्षित कर लिया, तो उसके बाद से ही चिदंबरम काफी परेशान और दुखी नजर आ रहे थे। उनके हावभाव से ऐसा लग रहा था कि उन्हें इस आदेश की उम्मीद नहीं थी। उधर 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में तिहाड़ जेल भेजे जाने के कोर्ट के फैसले के बाद चिदंबरम ने देश की अर्थव्यवस्था को लेकर एक बार फिर केंद्र पर तंज कसा। न्यायिक हिरासत में भेजे जाने के स्पेशल कोर्ट के फैसले पर जब उनकी टिप्पणी मांगी गई, तो उन्होंने कहा कि मुझे तो सिर्फ अर्थव्यवस्था की चिंता है। दूसरी तरफ, कांग्रेस ने सरकार पर विपक्षी नेताओं को चुन-चुनकर निशाना बनाने का आरोप लगाया है।

INX मीडिया केस की सुनवाई के दौरान ये दूसरा मौका था, जब चिदंबरम ने विकास दर में गिरावट को लेकर मोदी सरकार पर तंज कसा है। इससे पहले भी 3 सितंबर को भी कोर्ट से बाहर आते वक्त चिदंबरम से जब पत्रकारों ने पूछा कि उन्हें सीबीआई कस्टडी पर क्या कहना है, तो उन्होंने 5 फीसदी वाला तंज कसा था। तब चिदंबरम ने हाथ की पांचों उंगलियों को दिखाते हुए कहा था, ‘5 प्रतिशत। असल में अप्रैल-जून तिमाही में जीडीपी ग्रोथ रेट 5 प्रतिशत रही है, जो साढ़े 6 सालों का निम्नतम स्तर है।

Check Also

क्या महाराष्ट्र में बिना BJP के सरकार बनाना शिवसेना का आखिरी सुसाइड है ?

क्या महाराष्ट्र में बिना BJP के सरकार बनाना शिवसेना का आखिरी सुसाइड है ? तो क्या मुख्यमंत्…