Home पॉलिटिक्स तो अमेरिका में इसलिए सम्मानित होंगे PM मोदी….

तो अमेरिका में इसलिए सम्मानित होंगे PM मोदी….

9 second read
Comments Off on तो अमेरिका में इसलिए सम्मानित होंगे PM मोदी….
0
83

नरेंद्र मोदी जब से देश के प्रधानमंत्री बने हैं, तब से वो कई प्रतिष्ठित पुरस्कारों से सम्मानित हो चुके हैं। चैंपियंस ऑफ द अर्थ अवॉर्ड और सियोल शांति जैसे अवॉर्ड पाने वाली पीएम मोदी को हाल ही में UAE के सबसे बड़े सम्मान से नवाजा गया था। और अब उनके खाते में और पुस्कार आता नजर आ रहा है।

दरअसल पीएम मोदी को उनके महत्वकांक्षी प्रोजेक्ट स्वच्छ भारत अभियान के लिए ‘ग्लोबल गोल्स अवॉर्ड’ से सम्मानित किया जाएगा। पीएम मोदी को ये सम्मान बिल मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन की तरफ से दिया जाएगा। पीएम मोदी को ये पुरस्कार उनकी अमेरिकी यात्रा के दौरान दिया जाएगा। इसकी जानकारी देते हुए केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने अपने एक ट्वीट में लिखा-

एक और पुरस्कार, हर भारतीय के लिए गर्व का एक और क्षण, क्योंकि पीएम मोदी की मेहनती और अभिनव पहल की वजह से दुनिया भर से तारीफ मिलती है।

इससे पहले पिछले महीने ही पीएम मोदी को बहरीन के सम्मान ‘द किंग हमाद ऑर्डर ऑफ द रेनेसां’ से नवाजा गया। बहरीन के राजा से मुलाकात के दौरान पीएम मोदी को सम्मानित किया गया। वहीं बहरीन जाने से पहले पीएम मोदी संयुक्त अरब अमीरात गए थे, जहां उन्हें सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार ‘ऑर्डर ऑफ जायद’ से नवाजा गया। जून 2019 में पीएम मोदी को मालदीव का ‘रूल ऑफ द निशान इज्जुद्दीन’ सम्मान मिला था और उससे पहले अप्रैल, 2019 में पीएम मोदी को रूस का सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘सेंट एंड्रयू अवॉर्ड’ दिया गया था। इसके अलावा पीएम मोदी फलस्तीन का ‘ग्रैंड कॉलर ऑफ द स्टेट सम्मान, अफगानिस्तान के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘आमिर अमानतुल्लाह खान अवॉर्ड और सऊदी अरब के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘किंग अब्दुल अजीज सैश अवॉर्ड से भी सम्मानित हो चुके हैं।

आपको बता दें कि साल 2014 में सत्ता में आने के बाद पीएम मोदी ने स्वच्छ भारत अभियान की शुरुआत की थी। उन्होंने पांच साल के कार्यकाल में भारत को खुले में शौच मुक्त बनाने की बात कही थी। स्वच्छ भारत अभियान का लक्ष्य भारत को 2019 तक खुले में शौच से पूरी तरह से मुक्त कराना था। इस अभियान के तहत अगले पांच सालों में सरकार ने 9 करोड़ शौचालय बनाने का लक्ष्य सामने रखा था। इस अभियान को दो स्तर पर शुरू किया गया था। स्वच्छ भारत अभियान (ग्रामीण) जो पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय के तहत संचालित है। जबकि दूसरा स्वच्छ भारत अभियान (शहरी), जो शहरी कार्य मंत्रालय के तहत चलाया गया है।

Check Also

क्या महाराष्ट्र में बिना BJP के सरकार बनाना शिवसेना का आखिरी सुसाइड है ?

क्या महाराष्ट्र में बिना BJP के सरकार बनाना शिवसेना का आखिरी सुसाइड है ? तो क्या मुख्यमंत्…