15 June 2021

Eastern Railway suspends Twenty Five trains between May 24 and 29 in view of Cyclone Yaas amid Coronavirus Crisis; See full List of Trains – Cyclone Yaas के कारण 6 दिन रद्द रहेंगी ये ट्रेनें, देखें- Railway की यह लिस्ट

List of Suspended Trains due to Cyclone Yaas: चक्रवाती तूफान यास के दस्तक देने से पहले ही रेलवे सेवाएं प्रभावित हो गई हैं। पूर्वी रेलवे यानी कि Eastern Railway ने 6 दिन के लिए 25 ट्रेनें करद्द करने का ऐलान लिया है। ये सभी ट्रेनें 24 से 29 मई के बीच कैंसल रहेंगी।

कब और कहां देगा दस्तक?: दरअसल, बंगाल की खाड़ी के पूर्व में बना दबाव बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल सकता है। इस वजह से 155-165 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने और इस चक्रवाती तूफान के 26 मई को ओडिशा के पारादीप और पश्चिम बंगाल में सागर द्वीप पर पहुंचने का अनुमान है। मौसम विभाग ने रविवार को इस बारे में बताया। कोलकाता में क्षेत्रीय मौसम केंद्र के उप निदेशक संजीव बंदोपाध्याय ने बताया कि पश्चिम बंगाल में दीघा से 670 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिणपूर्व और पारादीप से 590 किलोमीटर पूर्व-दक्षिणपूर्व में बने इस दबाव के आगे बढ़ने से दोनों राज्यों के तटवर्ती और भीतरी क्षेत्रों में भारी बारिश होगी। दबाव का यह क्षेत्र 24 मई की सुबह चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा और उत्तर-पश्चिमोत्तर दिशा की ओर बढ़ेगा।

बंदोपाध्याय ने कहा, ‘‘इससे अगले 24 घंटे में यह बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा और 26 मई की सुबह पश्चिम बंगाल-ओडिशा तट के पास बंगाल की खाड़ी के उत्तरी हिस्से में पहुंचेगा।’’ पश्चिम बंगाल में पूर्वी और पश्चिमी मेदिनीपुर, दक्षिण और उत्तरी 24 परगना के साथ हावड़ा और हुगली में 25 मई से हल्की से मध्यम स्तर की बारिश होगी। उन्होंने कहा, ‘‘नदिया, पूर्वी और पश्चिमी वर्द्धमान, बांकुड़ा, पुरुलिया और बीरभूम में भारी बारिश होगी।’’ उनके अनुसार, राज्य के उप हिमालयी और पश्चिमी जिलों में 27 मई को भारी बारिश का अनुमान है। मौसम विभाग ने कहा है कि 25 मई से ओडिशा में हल्की से मध्यम स्तर की बारिश होगी। वहीं राज्य के उत्तरी तटवर्ती जिलों में भारी बारिश होने का अनुमान है। मौसम विभाग ने कहा है कि 24 मई को अंडमान निकोबार द्वीप समूह में हल्की से मध्यम स्तर की बारिश होगी। कुछ जगहों पर भारी बारिश भी हो सकती है।

देखें, कैंसल की गई ट्रेनों की पूरी लिस्टः

PM ने की तैयारियों की समीक्षाः वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चक्रवात ‘यास’ से निपटने के लिए रविवार को एक उच्चस्तरीय बैठक में राज्यों एवं केंद्र सरकार की एजेंसियों की तैयारियों की समीक्षा की और समुद्री गतिविधियों में शामिल लोगों को समय से सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के निर्देश दिए। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने एक बयान में बताया कि मोदी ने अधिकारियों से राज्यों के साथ करीबी समन्वय स्थापित कर काम करने को कहा, ताकि अत्यधिक जोखिम वाले इलाकों से लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला जा सके।

IAF के 11 परिवहन विमान, 25 चॉपर तैयारः भारतीय वायुसेना ने चक्रवात ‘यास’ से उत्पन्न स्थिति से निपटने की तैयारियों के तहत मानवीय सहायता और आपदा राहत कार्यों के लिए 11 परिवहन विमान और 25 हेलीकॉप्टर तैयार रखे हैं। अधिकारियों के अनुसार, बंगाल की खाड़ी में बन रहे चक्रवात से निपटने के लिए सरकार द्वारा कई उपायों की शुरुआत करने के बीच वायुसेना ने रविवार को तीन अलग-अलग स्थानों से 21 टन राहत सामग्री और राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के 334 कर्मियों को हवाई मार्ग से कोलकाता और पोर्ट ब्लेयर पहुंचाया। (भाषा इनपुट्स के साथ)



सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई


You may have missed

0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x