Home राष्ट्रीय दिल्ली ऑक्सीजन बारः अब दिल्ली में बिकेगी शुद्ध हवा

दिल्ली ऑक्सीजन बारः अब दिल्ली में बिकेगी शुद्ध हवा

8 second read

दिल्ली में बढ़ते हुए प्रदूषण स्तर को देखकर एक नई टेक्नोलॉजी के जरिए लोगों को ऑक्सीजन दिया जा रहा है। इसके लिए दिल्ली में ऑक्सीजन बार खोला गया है। जहां पर कीमत अदा करके शुद्ध ऑक्सीजन लिया जा सकता है। क्या कभी किसी ने सोचा होगा कि सांस लेने के लिए भी पैसे अदा करने होंगे? खतरनाक वायु प्रदूषण के स्तर से जूझ रही दिल्ली में अब पैसे चुका कर शुद्ध हवा लिया जा सकेगा। दिल्ली के साकेत स्थित सेलेक्ट सिटी मॉल में ऑक्सीजन बार खोला गया है। यहां पर कोई भी जरूरतमंद व्यक्ति ₹299 में 15 मिनट तक ऑक्सीजन बार की सहायता से ऑक्सीजन ले सकता है। इस ऑक्सीजन बार को ‘ऑक्सी प्योर’ का नाम दिया गया है।

क्या आपने कभी सोचा है कि हवा का भी फ्लेवर हो सकता है? जिसे आप अपनी इच्छा अनुसार चुनकर ताजी सांस अपने अंदर भर सकते हैं। दिल्ली में कुछ ऐसा ही होने जा रहा है। दिल्ली ऑक्सीजन बार में सात अलग-अलग फ्लेवर में शुद्ध ऑक्सीजन उपलब्ध कराई जा रही है। इन फ्लेवर्स में लेमन ग्रास, ऑरेंज, सिनामोन, स्पियरमिंट, पिपरमिंट, यूकेलिप्टस और लैवंडर शामिल है। दिल्ली के बाशिंदे इन ऑक्सीजन बार में जाकर अपनी पसंद की फ्लेवर चुनकर अपने अंदर फ्लेवर युक्त शुद्ध ऑक्सीजन भर सकेंगे

दिल्ली का प्रदूषण स्तर लगातार बढ़ रहा है। 3 हफ्ते से ज्यादा वक्त गुजर चुके हैं पर प्रदूषण में कमी रिपोर्ट नहीं की गई है। अभी हाल में ज्ञात हुई जानकारी के अनुसार दिल्ली-एनसीआर में वायु प्रदूषण का स्तर Severe (कठीन) लेवल पर पहुंच गया है। अगर एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI)की बात की जाए, तो दिल्ली के कई इलाकों में एक AQI 700 से भी पार हो गया है। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि हवा प्रदूषण का स्तर कितना बदतर हो गया है। दिल्ली के NCR इलाको गुरुग्राम, मानेसर, पलवल, फरीदाबाद, नोएडा, गाजियाबाद में वायु प्रदूषण से लोगों का बहुत बुरा हाल है। प्रदूषण का स्तर इतना बढ़ गया कि लोगों को सांस लेने में तकलीफ होती है। गला खराब रहता है और आंखों में जलन भी महसूस होने लगा है।

Read More   मीनाक्षी शेषाद्री 90 के दशक की सुपरहिट अभिनेत्री अब पहचानना है मुश्किल   

दिल्ली के प्रदूषण स्तर को देखते हुए स्कूल-कॉलेजों में छुट्टी घोषित कर दी गई है। लोग जहरीली, प्रदूषित हवा अंदर भरने को मजबूर हो गये है। दिल्ली का प्रदूषण स्तर इतना खराब हो गया है कि सुप्रीम कोर्ट ने भी अपनी चिंता जाहिर की है। केंद्र और राज्य सरकार को तुरंत इसके लिए कोई स्थाई समाधान ढूंढने को कहा है। ऐसे में ये ऑक्सीजन बार लोगों के लिए एक राहत भरी खबर हो सकती है।दिल्ली में प्रदूषण स्तर से हर कोई परेशान है। राजधानी के छात्रों ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर स्वच्छ हवा सुनिश्चित करवाने और इसके लिए कोई स्थाई उपाय ढूंढने का आग्रह किया है। प्रदूषण स्तर का ध्यान रखते हुए दिल्ली के स्कूलों में इस साल बाल दिवस तक नहीं मनाया गया है। एक छात्र ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखते हुए यह तक कहा कि पहले में फुटबॉल खेलता था। अब मैं बाहर खुली हवा में फुटबॉल नहीं खेल पाता, क्योंकि ऐसा करने से मेरी सांस फूलने लगती है। मुझे खेलने में दिक्कत आती है, अगर ऐसा चला तो दिल्ली में खिलाड़ियों के लिए अच्छा नहीं होगा।

Load More Related Articles
Load More By rishi
Load More In राष्ट्रीय

Check Also

क्या महाराष्ट्र में बिना BJP के सरकार बनाना शिवसेना का आखिरी सुसाइड है ?

क्या महाराष्ट्र में बिना BJP के सरकार बनाना शिवसेना का आखिरी सुसाइड है ? तो क्या मुख्यमंत्…