12 June 2021

दुनिया मेरे आगे

1 min read

लगभग दो महीनों के बाद तीसरी मंजिल के फ्लैट से उतर कर सुबह बाहर टहल रहा था। हमारे घर के...

1 min read

प्रतिभा कटियारउदासी भी एक समय के बाद छीजने लगती है। उसे खुद से उकताहट होने लगती हो मानो। लेकिन जब...

1 min read

बुलाकी शर्मादूसरी कक्षा में पढ़ने वाले मेरे पौत्र पर मेरी डांट का कोई असर नहीं होता। कभी डांटता भी हूं...

1 min read

राजेंद्र प्रसादबहुत से लोग आनंद के विषय में चिंतन करते हैं और चाहते हैं कि आनंद उनके पास मौजूद रहे।...

1 min read

सूर्य प्रकाश चतुर्वेदीशब्द का कोई एक अर्थ नहीं होता, बल्कि अनेक अर्थ होते हैं। ठीक उल्टा अर्थ भी होता है।...

You may have missed