चुनाव से पहले मायावती ने खोला पत्ता, फिर से कि आरक्षण की मांग

0
128

2019 के चुनाव से पहले बहुजन समाज पार्टी ने की अध्यक्ष मायावती ने अपने पत्ते खोलने शुरू कर दिए हैं, उन्होनें एसटी एससी एक्ट का स्वागत करते हुए कहा कि अब आर्थिक तौर पर कमजोर मुसलिम परिवारों को अलग से आरक्षण होना चाहिए.

मायावती ने एसटी एससी एक्ट का स्वागत किया साथ ही उन्होनें ये भी कहा कि  केंद्र सरकार उच्च जाति के गरीब लोगों को संविधान में संशोधन के जरिए आरक्षण देने के लिए कोई कदम उठाती है तो बीएसपी इसका सबसे पहले समर्थन करेगी. हम चाहते हैं हर किसी का विकास हो इसमें हर जाति का विकास होना चाहिए.

लोगों के हित में है ये एक्ट

मायावती ने ये भी कहा कि जिस तरह से ये बिल लोक सभा में पास हुआ है उम्मीद करती है हूं की राज्यसभा में आसानी से पास हो जाएगा. उन्होनें कहा कि इस बिल की काफी जरूरूत थी. ये उन लोगों के हित में जो लोग अब भी कई तरह के सुविधाओं से वंचित रह जाते हैं.

बता दें कि एससी एसटी बिल पर काफी समय से चर्चा चल रही थी. लोकसभा में इस बिल पर पहले ही सहमति बन चुकी है, और इसे राज्यसभा में पेश करने की मांग हो रही है.

कोर्ट ने लगाई थी रोक

बता दें कि कुछ दिनों पहले सुप्रीम कोर्ट ने एससी एसटी मामलों में तत्काल गिरफ्तारी पर रोक लगा दी थी. कोर्ट ने फैसला देते हुए कहा था कि सरकारी कर्मचारियों की गिरफ्तारी सिर्फ सक्षम अथॉरिटी की इजाजत के बाद ही हो सकती है. और इसी फैसले के बाद इस इस एक्च की चर्चा जोरों पर है.

विपक्ष ने इस कई बार राजनीतिक हथियाहर की तरह इस्तमाल किया है, इसे लेकर वो कई बार बीजेपी को घेरते नजर आ हैं. हाल ही में विपक्ष ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि सरकार केंद्र सरकार में शामिल दलित नेताओं की आलोचना करते हुए उन्होंने कहा कि जब 2 अप्रैल को आंदोलन किया गया था तो केंद्र सरकार के सभी दलित व आदिवासी मंत्री चुप्पी साधे हुए थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here